17 अक्टूबर तक इन राशियों का पलटेगा भाग्य, राजयोग का है योग

अक्टूबर का गोचर ग्रहों के राशि परिवर्तन से योग और नक्षत्रों का भी निर्माण होता है। वहीं, इस साल अक्टूबर के महीने में कई बड़े ग्रह अपनी चाल बदल चुके हैं

बुध का प्रवेश कन्या राशि में बुद्ध ने 1 अक्टूबर के दिन प्रवेश किया है। कन्या राशि में पहले से ही सूर्य देव विराजमान थे। वहीं, बुद्ध के कन्या में प्रवेश करने से बुध और सूर्य की युति बन चुकी है, जो 17 अक्टूबर तक रहने वाली है।

बुधादित्य योग बुध और सूर्य की युति जब बनती है तो इससे बुधादित्य योग का निर्माण होता है। बुधादित्य योग के शुभ प्रभाव से व्यक्ति का भाग्योदय होने के साथ आर्थिक दिक्कतें भी समाप्त होने लगती हैं।

मेष राशि मेष राशि के लोगों के लिए बुध ग्रह का राशि परिवर्तन बेहद ही शुभ माना जा रहा है। व्यापार में आ रही मुश्किलें समाप्त होने लगेंगी। बुध ग्रह की कृपा से विद्यार्थियों का मन पढ़ाई में लगेगा। संतान से जुड़ा कोई शुभ समाचार मिल सकता है।

कन्या राशि कन्या राशि में बुधादित्य योग बनने से धनु राशि के लोगों को लाभ मिलेगा। कार्यक्षेत्र में आ रही मुश्किलें खुद-ब-खुद खत्म होने लगेंगी। व्यापार में धन लाभ होने की संभावना है। नौकरी पेशा लोगों को अपने बॉस और सहयोगियों का साथ मिलेगा।

मिथुन राशि मिथुन राशि के जातकों के लिए बुधादित्य योग फायदेमंद माना जा रहा है। बुध के शुभ प्रभाव से व्यापार से जुड़ी योजनाएं अपना कमाल दिखाएंगी। वहीं, समाज में नाम और काम दोनों मान-सम्मान बटोरेंगे। सेहत पर ध्यान देने की आवश्यकता है।

वृश्चिक राशि बुधादित्य योग वृश्चिक राशि के जातकों के लिए बेहद ही शुभ माना जा रहा है। आपको सफलता पाने के लिए ज्यादा मेहनत नहीं करनी पड़ेगी।

घर परिवार में सुख-शांति का माहौल रहेगा साथ ही धन लाभ होने के भी योग हैं। व्यापार से जुड़ा कोई शुभ समाचार भी मिल सकता है। 

सिंह राशि सिंह राशि के लोगों को बुधादित्य योग के निर्माण से फायदा मिलेगा। बुध के शुभ प्रभाव से आपकी आय में वृद्धि होगी। पूर्व में किया गया निवेश आपके लिए गुड न्यूज लाएगा। परिवार में सुख-समृद्धि बनी रहेगी।

Aaj Ka Sone Ka Bhav: अभी खूब आएगी गिरावट! 10 ग्राम का भाव सुन खरीदने को दौड़ोगे